गणेश चालीसा PDF | Ganesh Chalisa PDF and Lyrics in Hindi

Ganesh Chalisa PDF and Lyrics in Hindi and Engish

Ganesh Chalisa pdf and lyrics

गणेश चालीसा पढ़ने के लिए

Ganesh Chalisa PDF and Lyrics in Hindi: हेलो दोस्तों आज की हमारी यह पोस्ट श्री गणेश चालीसा पर निदारित है | और साथ साथ में हम आपको ये भी बताएंगे की गणेश चालीसा का क्या फायदे है | 

आज हमने इस पोस्ट में आपको प्रधान की है | जिसकी मदद से आप आसानी से Ganesh Chalisa PDF को  Download कर सकते है | आप Ganesh Chalisa PDF को निचे दिए गए Link पर Click करके Download कर सकते है Ganesh Chalisa PDF and Lyrics in Hindi को 

गणेश चालीसा को पड़ने के फायदे

 

देखिये अगर हम भगवान् श्री गणेश जी की बात करे तो हर एक पाठ पूजा को करने से पहले गणेश जी का नाम लिया जाता है | 

मान्यता ऐसी है की श्री गणेश जी को विष्णु भगवान् जी का अवतार भी कहा जाता है |

Hanuman Chalisa in Telugu PDF, Lyrics, Images, Text, Format

मान्यता ऐसी भी है की अगर आप किसी देवी देवताओं की पूजा करते है बिना गणेश जी का नाम लिया या फिर गणेश जी का मंत्र पड़े तो कोई बी पूजा अधूरी मानी जाती है |

यानी गणेश जी की पूजा करना इतनी महतब माना जाता है | इसी के साथ साथ ऐसी मान्यता भी है की अगर आपको घर में कोई भी समस्या या फिर परेशानियां आ रही है या फिर आपके जीवन में कोई समस्या आ रही है किसी भी तरह की तो श्री गणेश जी उस समस्या या फिर परेशानी को संभाल ले लेते है |

शानि चालीसा PDF | Shani Dev Chalisa PDF and Lyrics Hindi

अगर आपकी लाइफ में आपके Career में कोई समस्या आ रही है या फिर आपके Relationship में तो श्री गणेश जी आपकी उस समस्या को ठीक कर देते है |

श्री गणेश जी बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक सबकी मदत करते है | आपकी पीड़ा को अपनी पीड़ा समज कर बह ठीक करते है | 

अगर आपको ज्ञान लेने में परेशानी आ रही है तो भी श्री गणेश जी आपकी पूर्ण रूप से सहायता करते है | 

तो आप समज सकते है की श्री गणेश जी की पूजा, चालीसा, मंत्र, पाठ करना कितना ज़रूरी है | 

Hanuman Chalisa in Hindi PDF | हनुमान चालीसा हिंदी में लिरिक्स और पाठ

तो गणेश चालीसा पड़ना उतना ही  लाबकार्य साबित होता है | यकीन मानिये यदि आप किसी बी कार्य में फसे हुए है जबकि वो आपका Business हो या फिर आपकी Job को लेकर या फिर आपकी Education हो अगर आपका कोई भी काम नहीं बन रहा है इन में से या फिर किसी भी अन्य तरह की परेशानी आ रही है 

यकीन मानिये अगर आप गणेश चालीसा लगातार 40 दिन तक कर ले तो आपके जीवन में कोई भी परेशानी आ रही होगी वो समापत हो जाएगी 

444+ Mahadev Quotes in Hindi | Lord Shiva, Bholenath, Mahakal Quotes

गणेश चालीसा पाठ करने के नियम

गणेश चालीसा को पड़ने का नियम बेहद ज़रूरी है | नियम का क्या धयान रखना है इस विषय पर हम अब बात करेंगे |

  • सबसे पहले आपको सुबह उठ सनान करके ही गणेश चालीसा का पाठ करना है |

 

  • आपको गणेश चालीसा का पाठ उतर या फिर पूर्व दिशा की तरफ अपना मुँह रख करना है |

 

  • गणेश चालीसा का पाठ करते समय आपके दिमाग में किसी को लेकर या किसी बी तरह की कोई Negativity नहीं आणि चाहिए |

 

  • गणेश चालीसा का पाठ करते है आपको भगवान् शिव और माता पार्वती का नाम ज़रूर लेना चाहिए |

 

  • क्युकी भगवान् शिव और माता पार्वती गणेश जी की माता पीता माने गए है |

 

  • गणेश चालीसा का पाठ बुधवार के दिन अनिवार्य होता ही है | मतलब आपको बुदवार के दिन आपको गणेश चालीसा का पाठ करना ही करना है |

 

  • गणेश जी का मंत्र ” ॐ गण गणपते नमः ” का जप करने से भी आपको लाभ प्रधान होगा |

 

Ganesh Chalisa PDF and Lyrics in Hindi

 

।। श्री गणेश चालीसा ।।

 

।। दोहा ।।

 

जय गणपति सदगुण सदन । कविवर बदन कृपाल ।।
विघ्न हरण मंगल करण । जय जय गिरिजालाल ।।
जय जय गिरिजालाल । जय जय गिरिजालाल ।।

 

।। चौपाई ।।

 

जय जय जय गणपति गणराजू । मंगल भरण करण शुभ काजू ।।
जय गजबदन सदन सुखदाता । विश्व विनायक बुद्घि विधाता ।।
वक्र तुण्ड शुचि शुण्ड सुहावन । तिलक त्रिपुण्ड भाल मन भावन ।।
राजत मणि मुक्तन उर माला । स्वर्ण मुकुट शिर नयन विशाला ।।

 

पुस्तक पाणि कुठार त्रिशूलं । मोदक भोग सुगन्धित फूलं ।।
सुन्दर पीताम्बर तन साजित । चरण पादुका मुनि मन राजित ।।
धनि शिवसुवन षडानन भ्राता । गौरी ललन विश्व-विख्याता ।।
ऋद्धि सिद्धि तव चँवर सुधारे । मूषक वाहन सोहत द्वारे ।।

 

कहौ जन्म शुभ-कथा तुम्हारी । अति शुचि पावन मंगलकारी ।।
एक समय गिरिराज कुमारी । पुत्र हेतु तप कीन्हो भारी ।।
भयो यज्ञ जब पूर्ण अनूपा । तब पहुंच्यो तुम धरि द्विज रुपा ।।
अतिथि जानि कै गौरि सुखारी । बहुविधि सेवा करी तुम्हारी ।।

 

अति प्रसन्न ह्वै वर दीन्हा । मातु पुत्र हित जो तप कीन्हा ।।
मिलहि पुत्र तुहि बुद्धि विशाला । बिना गर्भ धारण यहि काला ।।
गणनायक गुण ज्ञान निधाना । पूजित प्रथम रुप भगवाना ।।
अस कहि अन्तर्धान रुप ह्वै । पलना पर बालक स्वरुप ह्वै ।।

 

बनि शिशु रुदन जबहिं तुम ठाना । लखि मुख सुख नहिं गौरि समाना ।।
सकल मगन सुखमंगल गावहिं । नभ ते सुरन सुमन वर्षावहिं ।।
शम्भु उमा बहुदान लुटावहिं । सुर मुनि जन सुत देखन आवहिं ।।
लखि अति आनन्द मंगल साजा । देखन भी आये शनि राजा ।।

 

निज अवगुण गुनि शनि मन माहीं । बालक देखन चाहत नाहीं ।।
गिरिजा कछु मन भेद बढ़ायो । उत्सव मोर न शनि तुहि भायो ।।
कहन लगे शनि मन सकुचाई । का करिहौ शिशु मोहि दिखाई ।।
नहिं विश्वास उमा उर भयऊ । शनि सों बालक देखन कह्यऊ ।।

 

पडतहिं शनि दृग कोण प्रकाशा । बोलक सिर उड़ि गयो अकाशा ।।
गिरिजा गिरीं विकल ह्वै धरणी । सो दुख दशा गयो नहीं वरणी ।।
हाहाकार मच्यो कैलाशा । शनि कीन्ह्यों लखि सुत का नाशा ।।
तुरत गरुड़ चढ़ि विष्णु सिधाये । काटि चक्र सो गज शिर लाये ।।

 

बालक के धड़ ऊपर धारयो । प्राण मंत्र पढ़ि शंकर डारयो ।।
नाम गणेश शम्भु तब कीन्हे । प्रथम पूज्य बुद्घि निधि वर दीन्हे ।।
बुद्धि परीक्षा जब शिव कीन्हा । पृथ्वी कर प्रदक्षिणा लीन्हा ।।
चले षडानन भरमि भुलाई । रचे बैठ तुम बुद्घि उपाई ।।

 

चरण मातु-पितु के धर लीन्हें । तिनके सात प्रदक्षिण कीन्हें ।।
धनि गणेश कहि शिव हिय हरषे । नभ ते सुरन सुमन बहु बरसे ।।
तुम्हरी महिमा बुद्धि बड़ाई । शेष सहस मुख सकै न गाई ।।
मैं मति हीन मलीन दुखारी । करहुं कौन विधि विनय तुम्हारी ।।

 

भजत रामसुन्दर प्रभुदासा । जग प्रयाग ककरा दुर्वासा ।।
अब प्रभु दया दीन पर कीजै । अपनी भक्ति शक्ति कछु दीजै ।।

 

।। दोहा ।।

 

नित नव मंगल गृह बसै । लहे जगत सन्मान ।।
संभंध अपने सहस्त्र दश । ऋषि पंचमी दिनेश ।।
पूरण चालीसा भयो । मंगल मूर्ति गणेश ।।
मंगल मूर्ति गणेश । मंगल मूर्ति गणेश ।।

 

Ganesh Chalisa Lyrics Image

Ganesh Chalisa PDF

Download Ganesh Chalisa PDF and Lyrics

Shani Dev PDF

Ganesh Chalisa Full Video 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Buffalo Shooting Latest News: 10 Killed Britney Spears & Sam Asghari Wedding Details पंडित शिवकुमार जी अब इस दुनिया में नहीं रहे, Heart Attack  Andre Russel की पत्नी की बिकिनी में हुई तस्वीरें वायरल, देखिये  The Most Expensive House in United States $295,000,000